दुनिया

Yevgeny Prigozhin: प्रिगोझिन की मौत के एक दिन पहले लड़ाकों से मिला था पुतिन का यह खास, वैगनर समूह पर किसका होगा अब राज?



<p style="text-align: justify;"><strong>Wagner Chief Dies:</strong> वैगनर प्रमुख येवगेनी प्रिगोझिन की विमान दुर्घटना में दर्दनाक मौत के बाद उनकी प्राइवेट आर्मी के भविष्य को लेकर तरह-तरह की बातें हो रहीं है. सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर अब वैगनर समूह का क्या होगा, इसकी कमान कौन संभालेगा. यह रूस का हिस्सा रहेगा या नहीं?</p>
<p style="text-align: justify;">इन सवालों के बीच एक बड़ी जानकारी सामने आई है. एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, प्रिगोझिन की मौत से ठीक एक दिन पहले रूस के अधिकारी अफ्रीका के लीबिया के दौरे पर गए थे, जहां उन्होंने कहा था कि वैगनर के जवान एक नए कमांडर को रिपोर्ट करेंगे. इसके साथ ही रूसी अधिकारी ने कहा था कि वैगनर समूह के लड़ाके देश में बने रहेंगे, लेकिन नियंत्रण मास्को का रहेगा.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>रूस के उप रक्षा मंत्री ने की थी मुलाकात&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;">रिपोर्ट के अनुसार, लीबिया के एक अधिकारी ने दावा किया कि बैठक बेंगाजी शहर में हुई थी, जिसमें रूस के उप रक्षा मंत्री यूनुस-बेक येवकुरोव ने पूर्वी लीबिया के कमांडर खलीफा हफ्तार से कहा कि वैगनर के लड़ाके एक नए कमांडर को रिपोर्ट करेंगे. गौरतलब है कि इस बैठक के एक दिन बाद बुधवार शाम को रूस की राजधानी मॉस्को के उत्तर में एक निजी विमान हादसे का शिकार हो गया, जिसमें &nbsp;येवगेनी प्रिगोझिन समेत कुल 10 लोगों की मौत हो गई. ऐसे में प्रिगोझिन की मौत से एक दिन पहले रूस के उप रक्षा मंत्री की बैठक पर एक्सपर्ट तरह तरह की बातें कर रहे हैं.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>जून में प्रिगोझिन ने किया था विद्रोह&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;">बता दें कि प्रिगोझिन के नेतृत्व में वैगनर समूह ने जून के आखिरी हफ्ते में रूस के खिलाफ असफल विद्रोह किया था, लेकिन बाद में वह बेलारूस की मध्यस्थता से मान गया था. बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्सांद्र लुकाशेंको ने प्रिगोझिन और व्लादिमीर पुतिन के बीच जैसे तैसे समझौता कराया था, लेकिन अमेरिकी खुफिया एजेंसी (CIA) ने प्रिगोझिन की हत्या की आशंका पहले ही जताई थी. बता दें कि वैगनर समूह में अब भी कम से कम 25 हजार लड़ाके मौजूद हैं, जो हथियार चलाने में माहिर हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि इनपर नियंत्रण रूस का रहेगा, लेकिन येवगेनी प्रिगोझिन की जगह कौन लेगा, यह अभी सार्वजनिक नहीं हो पाया है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें: <a title="Vivek Ramaswamy Worth: ट्रंप के बाद रिपब्लिकन पार्टी में सबसे अमीर उम्मीदवार हैं विवेक रामास्वामी, जानें इतनी कम उम्र में कैसे बने अरबपति" href="https://www.abplive.com/news/world/us-presidential-election-candidate-vivek-ramaswamy-worth-know-how-he-become-a-billionaire-at-such-a-young-age-2481009" target="_blank" rel="noopener">Vivek Ramaswamy Worth: ट्रंप के बाद रिपब्लिकन पार्टी में सबसे अमीर उम्मीदवार हैं विवेक रामास्वामी, जानें इतनी कम उम्र में कैसे बने अरबपति</a></strong></p>
#Yevgeny #Prigozhin #परगझन #क #मत #क #एक #दन #पहल #लडक #स #मल #थ #पतन #क #यह #खस #वगनर #समह #पर #कसक #हग #अब #रज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button