भारत

Republic Day 2023 Rafale Su 30 MKI Mig 29 Multirole Fighters Jaguar Su 30 MKI Formation


Republic Day 2023 India Parade Flypast: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 74वें गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान कर्तव्य पथ परेड का समापन भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों के फ्लाईपास्ट के साथ हुआ. फ्लाईपास्ट में कुल 50 विमान शामिल हुए, जिनमें राफेल, मिग-29 और सुखोई-30 एमकेआई लड़ाकू विमानों के साथ सी-130 सुपर हरक्युलिस और सी-17 ग्लोबमास्टर परिवहन विमान शामिल थे.

वायुसेना की ओर से फ्लाईपास्ट के कई वीडियो शेयर किए गए हैं. इनमें मल्टीरोल फाइटर जेट राफेल का एक वीडियो हतप्रभ करने वाला लगता है. रक्षा मंत्रालय के मुख्य प्रवक्ता ए भारत भूषण बाबू ने इस वीडियो को ट्वीट किया है, साथ ही जानकारी दी है कि यह वीडियो फ्लाईपास्ट में विजय फॉर्मेशन का है, जिसे मल्टीरोल फाइटर सिंगल राफेल ने अंजाम दिया.

क्यों होता है फ्लाईपास्ट?

बता दें कि हर वर्ष दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड का समापन वायुसेना के फ्लाईपास्ट के साथ होता है. पूरी परेड के दौरान दर्शकों के लिए यह सबसे बड़े आकर्षण में से एक होता है. फ्लाईपास्ट का मकसद आसमान में देश की ताकत की झलक पेश करना होता है. इस दौरान आम हो खास, परेड देखने पहुंचे हर दर्शक की निगाह सीधे आसमान में हैरतअंगेज करतब दिखाते वायुसेना के विमानों पर टिक जाती है और रोंगटे खड़े हो जाते है, साथ ही अपनी वायुसेना पर गर्व महसूस होता है. इस दौरान वायुसेना के कई कैटेगरी के लड़ाकू विमानों को फ्लाईपास्ट में शामिल किया जाता है. ये विमान आसमान में कई तरह की आकृतियों वाले क्रम में नजर आते हैं, जिन्हें फॉर्मेशन कहा जाता है. इनमें त्रिशूल फॉर्मेशन, अमृत फॉर्मेशन, भीम फॉर्मेशन, नेत्र फॉर्मेशन, वज्रांग फॉर्मेशन, बाज फॉर्मेशन और विजय फॉर्मेशन आदि शामिल हैं.

आसमान में अठखेलियों जैसा अहसास कराता राफेल का विजय फॉर्मेशन

राफेल फाइटर जेट के विजय फॉर्मेशन का वीडियो आसमान में अठखेलियां करने जैसा अहसास कराता है. इसके कॉकेपिट में लगे से कैमरे से अंदर और बाहर का जो नजारा कैद हुआ, वह आश्चर्य में डालता है. राजधानी दिल्ली की तस्वीरें शायद की कभी आसमान से इस तरह से ली गई हों. फाइटर पायलट इसे ऐसे कंट्रोल करते हुए मालूम होता है जैसे उसके हाथ में कोई खिलौना है. विमान एकदम से पूरा उलट-पुलट हो जाता है और पायलट के चेहरे पर कोई शिकन नहीं आती. राफेल का यह वीडियो बार-बार देखने को जी चाहता है. वर्तमान में भारतीय वायुसेना में राफेल विमान सबसे ताकतवर फाइटर जेट है.

त्रिशूल फॉर्मेशन में तीन सुखोई (Su-30 MKI) लड़ाकू विमान शामिल हुए.

अमृत फॉर्मेशन में भारतीय वायुसेना के छह जगुआर डीप पेनेट्रेशन स्ट्राइक एयरक्राफ्ट शामिल हुए.

भीम फॉर्मेशन में दो सुखोई 30 एमकेआई एयर सुपीरियरिटी लड़ाकू विमानों के साथ एक सी 17 हेवी लिफ्ट ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट शामिल हुआ.

चार राफेल से घिरा नेत्र फॉर्मेशन देखने लायक है.

वज्रांग फॉर्मेशन में बीच में एक सी 130 सुपर हरक्यूलिस ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट शामिल रहा,  जिसके दोनों ओर दो राफेल मल्टीरोल लड़ाकू विमान रहे.

बाज फॉर्मेशन में तीन मिग-29 मल्टीरोल फाइट जेट शामिल हुए.

हेलिकॉप्टर्स से नजारे कैद किए गए.

कोहरे ने किया मजा किरकिरा

बता दें कि गुरुवार को दिल्ली में कोहरे की घनी चादर के कारण दृश्यता का स्तर कम होकर करीब 800 मीटर रहा, जिसकी वजह से परेड देखने पहुंचे लोग फ्लाईपास्ट का पूरी तरह आनंद नहीं ले सके. लोग अपने मोबाइल कैमरे से इस रोंगटे खड़े कर देने वाले नजारे को कैद करना चाह रहे थे, लेकिन कोहरे और धुंध के कारण ऐसा नहीं हो सका. लोग वायुसेना के फ्लाईपास्ट का आनंद ले सकें, इसके लिए वायुसेना ने विमानों के कॉकपिट कैमरों की मदद से बनाए गए कई सारे वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किए हैं.

यह भी पढ़ें- Republic Day 2023: मेक इन इंडिया, नारी शक्ति, अग्निवीर… 74वें गणतंत्र दिवस की परेड में क्या रहा खास | 10 प्वाइंट्स


#Republic #Day #Rafale #MKI #Mig #Multirole #Fighters #Jaguar #MKI #Formation

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button