बिज़नेस

RBI MPC Minutes Released Raises Concern On Rise In Food Inflation Calls For Close Monitoring


RBI MPC Minutes: जुलाई महीने में खुदरा महंगाई दर 15 महीने हाई पर है तो खाद्य महंगाई दर 2020 के बाद सबसे उच्च स्तर 11.51 फीसदी पर जा पहुंची है. जुलाई अगस्त में साग सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी ने आरबीआई की चिंता बढ़ा दी है. आरबीआई गवर्नर की अध्यक्षता वाली मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी ने अल नीनो और असमान बारिश से पैदा हुए चुनौती पर कड़ी नजर बनाये रखने की वकालत की है.  8 से 10 अगस्त 2023 को आरबीआई एमपीसी की जो बैठक हुई थी उसके मिनट्स जारी किए गए हैं उसी से ये बातें निकलकर सामने आई है. 

आरबीआई की एमपीसी बैठक में कमिटी के सभी सदस्यों ने 6.50 फीसदी रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं करने पर अपनी सहमति व्यक्त की थी. आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने अपने बयान में कहा कि वैश्विक तनाव का जोखिम बना हुआ है साथ ही असमान मौसम का असर कृषि उपज पर पड़ सकता है. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कमोडिटी की कीमतों में उछाल और सप्लाई में व्यवधान से एनर्जी प्राइसेज में उछाल का जोखिम बना हुआ है जिससे घरेलू कीमतों में स्थिरता को चुनौती मिल सकती है. 

एमपीसी की सदस्य आशिमा गोयल ने अपने स्टेटमेंट में कहा कि जुलाई में मानसून ने रफ्तार पकड़ी लेकिन असमान बारिश  के चलते सब्जियों की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है. जून में हेडलाइन इंफ्लेशन बढ़ा है जबकि कोर इंफ्लेशन कम रहा है.  उन्होंने कहा कि खाने-पीने की चीजों की कीमतों में उतार-चढ़ाव और कोर इंफ्लेशन पर कड़ी नजर बनाये रखने की जरुरत है. 

एमपीसी के दूसरे सदस्य जयंत वर्मा ने कहा कि महंगाई पर जीत की घोषणा करने को लेकर मैंने आगाह किया किया था. अब ये स्पष्ट है कि अगले कुछ महीनों तक महंगाई टोलरेंस बैंड के ऊपर बनी रहेगी. 

एमपीसी के एक अन्य सदस्य राजीव रंजन ने कहा कि जून-जुलाई में साब्जियों की कीमतें बढ़ी हैं जो सीजनल ट्रेंड से ज्यादा है और हाल के वर्षों में इसमें सबसे तेज उछाल देखने को मिला है. उन्होंने कहा कि टमाटर की कीमतें 326 फीसदी बढ़ गई. राजीव रंजन  के मुताबिक खरीफ फसलों की बुआई बढ़ी है लेकिन सब्जियों के साथ ही अनाज, दाल और मसालों की कीमतों में उछाल चिंता का कारण बना हुआ है और इसपर निगरानी रखने की जरुरत है. उन्होंने कहा कि अगले दो महीने तक असमान बारिश और अल नीनो का असर, वैश्विक फूड प्राइसेज में उतार-चढ़ाव के चलते घरेलू खाद्य वस्तुओं की कीमतों में स्थिरता को लेकर आउटलुक ढुलमुल बना हुआ है. 

ये भी पढ़ें

Vegetable Prices: कब मिलेगा सब्जियों की बढ़ती महंगाई से छुटकारा, RBI गवर्नर ने दिया राहत भरा ये जवाब

#RBI #MPC #Minutes #Released #Raises #Concern #Rise #Food #Inflation #Calls #Close #Monitoring

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button