दुनिया

Pakistan Election Results 2024 Muttahida Qaumi Movement Pakistan Imran Khan pti Governor Kamran Tessori


Pakistan Election Results 2024: सोशल मीडिया पर बुधवार (28 फरवरी 2024) को मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट-पाकिस्तान के मुख्य नेताओं की दो ऑडियो क्लिप वायरल हुई. वायरल हो रहे क्लिप से पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के उस दावे को बल मिल रहा है जिसमें 8 फरवरी को उन्होंने चुनावों में बड़े पैमाने पर धांधली का आरोप लगाया था. पीटीआई नेता का कहना है कि परिणाम जारी करते वक्त उनका जनादेश चोरी हुआ था.

एक ऑडियो क्लिप में सिंध के गवर्नर कामरान टेसोरी को कथित तौर पर यह कहते हुए सुना गया है कि, ‘वे कहते हैं कि हमारा जनादेश 100 प्रतिशत फर्जी है.’ टेसोरी को किसी से यह कहते हुए सुना जाता है कि जब वह गर्वनर बने तो मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट-पाकिस्तान (एमक्यूएम-पी) ने इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के साथ गठबंधन किया था.

गर्वनर ने कहा कि इससे पहले एमक्यूएम-पी को 2018 के चुनावों में कराची में नेशनल असेंबली की 7 सीट मिली थी, क्योंकि तब उसके पास अपना वास्तविक वोट बैंक था. उन्होंने कहा, ‘आज (8 फरवरी को मतदान) हमें वोट नहीं मिले.’ इमरान खान और उनकी पार्टी पीटीआई ने चुनावों में धांधली का आरोप लगाया है.

पाकिस्तान निर्वाचन आयोग (ईसीपी) के अनुसार, पीटीआई समर्थित निर्दलीय उम्मीदवारों ने नेशनल असेंबली की 92 सीट पर जीत दर्ज की, जो पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के नेतृत्व वाली पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) से अधिक है. खान के पीटीआई समर्थित उम्मीदवारों ने प्रांतीय विधानसभाओं में 113 सीटें हासिल कीं.

स्पष्ट बहुमत के अभाव में, पीएमएल-एन और पीपीपी ने कई अन्य निर्दलीय विधायकों के साथ ही चार अन्य छोटे दलों के साथ मिलकर गठबंधन बनाया है. समझौते के मुताबिक पीएमएल-एन प्रमुख नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज शरीफ प्रधानमंत्री होंगे. हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि सरकार कब शपथ लेगी.

ऑडियो क्लिप में, गवर्नर ने यह भी शिकायत की कि वे (शक्तिशाली सैन्य प्रतिष्ठान और पीएमएल-एन के संदर्भ में) एमक्यूएम को केंद्र में एक मंत्रालय दे रहे हैं और अपने गवर्नर को सिंध भी ला रहे हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी उन पर दबाव बना रही है कि सिंध का गवर्नर एमक्यूएम-पी से नहीं होना चाहिए.

टेसोरी ने यह भी कहा कि अगर एमक्यूएम-पी केंद्र में शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार में शामिल होती है, तो पार्टी का भविष्य खराब होने वाला है. समाचार पत्र जंग ने टेसोरी के हवाले से अपनी खबर में कहा, ‘अब हमें जो मिल रहा है वह एक मंत्री पद है. वे गवर्नर का पद भी छीनना चाहते हैं और सबसे खराब बात यह है कि हमने अब अपने मतदाताओं का भरोसा और विश्वास खो दिया है.’

टेसोरी ने ऑडियो क्लिप में यह भी चेतावनी दी है कि अगर एमक्यूएम केंद्र या सिंध में किसी भी सरकार में शामिल होती है, तो उसे अपने मतदाताओं से काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ेगा, जो जानते हैं कि पार्टी को हाल के चुनावों में फर्जी वोट मिले हैं.

एक अन्य ऑडियो क्लिप में एमक्यूएम-पी के वरिष्ठ उप संयोजक मुस्तफा कमाल को यह कहते हुए सुना गया, ‘हमने पीएमएल-एन प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की और उन्होंने हमें दो बातें बताईं- पीपीपी कह रही है कि एमक्यूएम-पी का जनादेश 100 प्रतिशत फर्जी है और चूंकि पीएमएल-एन और पीपीपी के पास सरकार बनाने के लिए संसद में आवश्यक संख्या है, इसलिए एमक्यूएम-पी को किनारे किया जाना चाहिए.’

मुस्तफा कमाल ने ऑडियो क्लिप की पुष्टि करते हुए कहा कि उनकी पार्टी के प्रतिद्वंद्वियों द्वारा यह दावा करने में कोई नई बात नहीं है कि उनका जनादेश फर्जी है. एमक्यूएम-पी ने कराची में नेशनल असेंबली की 17 सीट पर जीत दर्ज की है. पीटीआई ने दावा किया कि एमक्यूएम-पी ने जिन सीट पर जीत दर्ज की, उन पर इस पार्टी (एमक्यूएम-पी) के उम्मीदवार तीसरे स्थान पर भी नहीं थे.

यह भी पढ़ें- चीन ने चोरी छिपे बना लिया ताइवान के समुद्री इलाके का नक्शा, क्या जंग की बड़ी प्लानिंग कर रहा चीन

#Pakistan #Election #Results #Muttahida #Qaumi #Movement #Pakistan #Imran #Khan #pti #Governor #Kamran #Tessori

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button