दुनिया

Pakistan Election 2024 Nawaz Sharif Bilawal Bhutto Zardari Imran Khan Who Will Become Pakistan PM Counting Starts


Who Will Become Pakistan PM: पाकिस्तान में गुरुवार (8 फरवरी) को आम चुनाव के लिए मतदान हुआ. शाम करीब पांच बजे से वोट डाले गए और इसके बाद मतगणना शुरू हो गई. लाहौर में एनए 130 निर्वाचन क्षेत्र पहुंचे एबीपी न्यूज के संवाददाता ने वहां से जानकारी दी कि रात में 12 से 1 बजे के करीब यह पता चलना शुरू हो जाएगा कि कौन सी पार्टी ज्यादा सीटें हासिल कर चुकी है. 

नवाज शरीफ के खिलाफ चुनावी मैदान में कौन?

एनए 130 सीट से पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ चुनाव लड़ रहे हैं. माना जा रहा है कि उन्हें सेना से समर्थन प्राप्त है. वह रिकार्ड चौथे कार्यकाल की उम्मीद के साथ मैदान में हैं. नवाज शरीफ के निकटतम प्रतिद्वंद्वी डॉक्टर यास्मीन राशिद नवाज हैं. राशिद अभी जेल में हैं. 

किसके जीतने के चांस?

प्रधानमंत्री पद के दावेदारों की रेस में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान भी हैं. हालांकि, इमरान खान के जेल में होने के कारण पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर सकती है.

इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के उम्मीदवार निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने उनकी पार्टी को उसके चुनाव चिह्न क्रिकेट ‘बल्ला’ से वंचित करने संबंधी निर्वाचन आयोग के फैसले को बरकरार रखा है. इमरान खान ने अपने एक रिकॉर्डेड संदेश ने जनता से बढ़-चढ़कर मतदान करने की अपील की थी.

पाकिस्तान में 2022 में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी विदेश मंत्री बने थे. वह भी प्रधानमंत्री बनने की उम्मीद लगाए बैठे हैं. पाकिस्तान की कुल 265 सदस्यीय नेशनल असेंबली में बहुमत के लिए 133 सीटें जीतना जरूरी है.

चुनाव के दौरान आतंकी हमले

पाकिस्तान में मतदान की पूर्व संध्या और मतदान के दिन आतंकी हमले हुए. बुधवार को बलूचिस्तान प्रांत के पिशिन और किला सैफुल्लाह में दोहरे आतंकी हमलों में कई लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए और गुरुवार को मतदान के दौरान खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के डेरा इस्माइल खान जिले और टैंक जिले में आतंकी हमले हुए, जिनमें कम से कम पांच पुलिसकर्मियों की मौत हो गई और छह अन्य घायल हो गए.

मोबाइल-इंटरनेट सेवा रही बंद

बुधवार को हुए दोहरे हमले के बाद आंतरिक मंत्री की ओर से कहा गया कि पाकिस्तान में मोबाइल सेवा और इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया. 

चीफ इलेक्शन कमिश्नर सिकंदर सुल्तान राजा की ओर से कहा गया कि वह इटीरियर मिनिस्टर को इंटरनेट सर्विस के लिए किसी प्रकार के निर्देश जारी नहीं करेंगे क्योंकि इस दौरान अगर कोई गड़बड़ी होती है तो वो जिम्मेदार नहीं होंगे.

लगे धांधली के आरोप

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, पाकिस्तान में विपक्ष ने चुनाव में धांधली के आरोप लगाए हैं. कुछ राजनेताओं ने कहा कि मतदान के दिन मोबाइल नेटवर्क बंद करने से संदेह पैदा हुआ है. वहीं, एबीपी न्यूज के संवाददाता ने विशेषज्ञों के हवाले से बताया कि पाकिस्तान के चुनाव में अगर मतदान प्रतिशत ज्यादा रहता है तो धांधली का चांस खत्म हो जाएगा. 

कितने उम्मीदवार मैदान में?

पाकिस्तान निर्वाचन आयोग के मुताबिक, नेशनल असेंबली के लिए 5,121 उम्मीदवार और चार प्रांतीय विधानसभाओं के लिए 12,695 उम्मीदवार मैदान में हैं. 

मतदान के दौरान कैसा रहा महौल?

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, मतदान शुरू होने के बाद से ज्यादातर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदाताओं की कम संख्या देखी गई, हालांकि वक्त गुजरने के साथ हालात में सुधार दिखा. कई स्थानों पर कुछ मतदाता मतदान केंद्रों के बाहर इंतजार करते देखे गए, जहां मतदान कर्मचारियों के ड्यूटी पर नहीं आने के कारण केंद्रों के दरवाजे नहीं खुले थे.

कई मतदान केंद्रों पर कर्मचारियों ने मतपत्रों की कमी और गलत कागजात होने की भी शिकायत की, जिसके कारण मतदान प्रक्रिया में काफी देरी हुई. बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा के कुछ हिस्सों में ठंडे मौसम और बारिश की वजह से भी लोग मतदान केंद्रों से नदारद रहे.

(भाषा से भी इनपुट)

यह भी पढ़ें- Pakistan Election 2024: पाकिस्तान में मतदान के बाद कब आएंगे एग्जिट पोल के नतीजे? नोट कर लें डेट और टाइम

#Pakistan #Election #Nawaz #Sharif #Bilawal #Bhutto #Zardari #Imran #Khan #Pakistan #Counting #Starts

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button