दुनिया

Nepal Plane Crash: Probe Committee Shocking Reveals On Yeti Airlines ATR-72 Aircraft Indicates


Nepal Plane Crash Probe: नेपाल में पिछले महीने हुए बड़े विमान हादसे को लेकर जांच चल रही है. विमान हादसे में क्रू-मेंबर्स समेत 60 से ज्यादा यात्रियों की जानें गई थीं. इस हादसे की वजह का पता लगाने के लिए एक जांच समिति गठित की गई थी. उस समिति ने रिपोर्ट में चौंकाने वाला दावा किया गया है.

जांच समिति ने कहा है कि येति एयरलाइंस के एटीआर-72 विमान के फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर को चेक करने पर पता चला है कि विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह उसके इंजन में समस्या रही होगी.  बता दें कि विमान 15 जनवरी को पोखरा में दुर्घटनाग्रस्त हुआ था. उसे एयरपोर्ट पर लैंड होना था, जबकि उससे कुछ ही सेकंड पहले वह नीचे जा गिरा था. 

नीचे गिरता विमान पहाड़ी की चोटी से टकराया था. उसमें आग लग गई थी. आग में बहुत-से यात्री जिंदा जल गए. कई के शव भी नहीं मिले थे.

विमान हादसे में पांच भारतीयों की भी गई थी जान
इस विमान हादसे में विमान हादसे में पांच भारतीयों की भी मौत हुई थी. विमान में 68 यात्रियों और चालकदल के चार सदस्यों समेत कुल 72 लोग सवार थे. बताया गया कि इनमें से कोई जिंदा नहीं बचा. इस बात की पुष्टि बाद में नेपाल की सेना ने की. सेना ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त विमान से किसी को भी जिंदा नहीं निकाला जा सका.

तकनीकी खराबी की जताई जा रही थी आशंका
पोखरा एयरपोर्ट से कुछ दूरी पर हुआ यह नेपाल में कई सालों का सबसे बड़ा विमान हादसा था. विमान 15 जनवरी रविवार सुबह लगभग 11 बजे दुर्घटना का शिकार हुआ था. नेपाल की सेना ने एक बयान में कहा कि 72 सीटर विमान पोखरा एयरपोर्ट के रनवे पर लैंड करने से महज 10-20 सेकंड पहले क्रैश हुआ. बड़ी बात यह भी थी कि हादसे से पहले विमान के कॉकपिट से खतरे का कोई संकेत नहीं आया था. शुरुआती जांच में तकनीकी खराबी को इस हादसे की वजह माना गया.

यह भी पढ़ें: 15 जनवरी..नेपाल के लिए सबसे मनहूस दिन, 89 साल पहले 11 हजार लोगों की हुई थी मौत

#Nepal #Plane #Crash #Probe #Committee #Shocking #Reveals #Yeti #Airlines #ATR72 #Aircraft

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button