दुनिया

Israeli Army Enter In Palestinian City Jericho Attcak Refuge Camp

[ad_1]

Israel-Palestinian: इजरायली (Israeli) आर्मी ने शनिवार (4 फरवरी) को फिलिस्तीनी (Palestinian) शहर जेरिको के पास एक शरणार्थी शिविर पर छापा मारा. बताया गया कि फिलिस्तीनी हमलावरों के लिए छिपने की जगह के रूप में इस्तेमाल किए जा रहे घरों को घेरा गया और गोलियां चलाने वाले लोगों पर जवाबी गोलीबारी की गई. फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, लड़ाई में छह फिलिस्तीनी घायल हुए, जिसमें दो गंभीर हैं. इजरायली आर्मी ने नखलिस्तान शहर पर हमला किया, जहां वेस्ट बैंक के अन्य शहरों की तुलना में कम हिंसा दिखी है.

इजरायली आर्मी ने कहा कि वो लोग कब्जे वाले वेस्ट बैंक में जेरिको के दक्षिण-पश्चिम में अकाबत जबर शरणार्थी शिविर में घुसे ताकि पास की इजरायली बस्ती में पिछले सप्ताह एक शूटिंग हमले में शामिल संदिग्धों की तलाश की जा सके. पिछले शनिवार को दो दशकों में सबसे घातक हमले में पूर्वी यरुशलम में सात लोग मारे गए थे. आर्मी  ने कहा कि एक फिलिस्तीनी बंदूकधारी ने जेरिको के पास एक रेस्तरां में आग लगा दी थी. आर्मी ने कहा कि गोली दागने के बाद बंदूकधारी मौके से फरार हो गया. हालांकि,  हमले में कोई घायल नहीं हुआ था.

आर्मी ने बुलडोजर का किया इस्तेमाल

इजरायली आर्मी ने कहा कि कई फ़िलिस्तीनी परिवार की मदद से गोलीबारी करने वाले अपने घरों में छिपे हुए हैं और आगे के हमलों की योजना बना रहे हैं. भाग गए लोगों को सरेंडर कराया जा रहा था. इस दौरान आर्मी ने बुलडोजर को संदिग्धों के घरों में से एक की दीवार पर चढ़ा दिया. शिविर के निवासियों ने परिवारों को अपने बच्चों को अंदर रखने और इजरायली सैनिकों के साथ टकराव से बचने के लिए की सूचना दे रहे थे.

आर्मी ने कहा कि संदिग्ध परिवार का एक सदस्य घर से निकला और खुद को अंदर कर लिया. सुरक्षा बलों ने घर के अधिकांश हिस्से को समतल कर दिया. फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों ने सैन्य जीपों पर पत्थर और मोलोटोव कॉकटेल फेंके, जबकि कुछ बंदूकधारियों ने गोलियां चला दीं. 

ये भी पढ़ें:Pervez Musharraf Afghan policy: क्या जनरल मुशर्रफ की गलत नीतियों की सजा भुगत रहा है पाकिस्तान? पूर्व सैन्य तानाशाह की अफगान नीति बनी आतंक का जरिया!

#Israeli #Army #Enter #Palestinian #City #Jericho #Attcak #Refuge #Camp

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button