दुनिया

Indian Sentenced For Illegally Working As Pub Door Supervisor In UK


Indian Man Sentenced in UK: ब्रिटेन में एक भारतीय को पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों के नियमित निरीक्षण के दौरान एक पब में डोर सुपरवाइजर के रूप में अवैध रूप से काम करते हुए पाया गया जिसके बाद उसे सजा सुनाई गई है. 

वॉर्सेस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में सुनाई गई सजा में विक्रमजीत शर्मा को 250 पाउंड का फाइन और 100 पाउंड का विक्टिम सरचार्ज देने के लिए कहा गया. इसके अलावा, कोर्ट ने उन्हें 1,663.80 पाउंड अभियोजन खर्च का भुगतान करने का आदेश दिया. इस बात की जानकारी यूके के सिक्योरिटी इंडस्ट्री अथॉरिटी (एसआईए) ने सोमवार (21 अगस्त) को एक विज्ञप्ति में दी. 

पब में अवैध रूप से काम करता था भारतीय व्यक्ति

बता दें कि मामला तब शुरू हुआ जब वेस्ट मर्सिया पुलिस 4 नवंबर, 2022 को वॉर्सेस्टर की टीम रात में जांच करने के लिए एसआईए जांचकर्ताओं के साथ निकली. जांचकर्ताओं ने एक फेमस पब से संपर्क किया जहां दो व्यक्ति डोर सुपरवाइजर के रूप में काम कर रहे थे. विज्ञप्ति में कहा गया है कि शर्मा उनमें से एक थे और वह अपना एसआईए लाइसेंस दिखा रहे थे. 

2022 में रद्द कर दिया था लाइसेंस 

जांच से पता चला कि देश में प्राइवेट सिक्योरिटी इंडस्ट्री को रगुलेट करने के लिए जिम्मेदार एसआईए ने 5 सितंबर, 2022 को ही शर्मा का लाइसेंस रद्द कर दिया था. शर्मा के पास अब यूके में काम करने का कोई अधिकार नहीं था. 

उनसे कई बार संपर्क किया गया और बताया गया कि उनका लाइसेंस रद्द कर दिया गया है और उन्हें एसआईए के फैसले के खिलाफ अपील करने के लिए 21 दिन का समय दिया गया. एसआईए ने उनसे लाइसेंस वापस करने को भी कहा. 4 नवंबर, 2022 को निरीक्षण के दौरान एसआईए के जांचकर्ताओं ने स्थापित किया कि शर्मा ने पब की साइनिंग इन-बुक में एक बार एंट्री की थी. 

लाइसेंस रद्द करने की नहीं थी जानकारी

शर्मा ने एसआईए के जांचकर्ताओं को बताया कि उन्हें इस बात की कोई जानकारी नहीं थी कि उनका लाइसेंस रद्द कर दिया गया है और उनका लाइसेंस भी छीन लिया. सुरक्षा एजेंसी के अनुसार, उन्हें 23 जून को भी कोर्ट में पेश होना था, लेकिन वो कोर्ट ही नहीं आए. 

एसआईए के आपराधिक जांच प्रबंधकों में से एक मार्क चैपमैन ने कहा, “एसआईए लाइसेंस धारकों को जनता की सुरक्षा के लिए ‘फिट और उचित’ व्यक्ति होना चाहिए. शर्मा का लाइसेंस रद्द कर दिया गया था. वह अब वो निजी सुरक्षा में काम नहीं कर सकते हैं और उनका क्रिमिनल रिकॉर्ड भी है.”

यह भी पढ़ें- दूध पिलाकर 7 नवजातों की जान लेने वाली नर्स को आजीवन कारावास, जज ने क्या कुछ कहा?

#Indian #Sentenced #Illegally #Working #Pub #Door #Supervisor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button