दुनिया

India Modi Govt Invites Pakistan Chief Justice Umar Atta Bandial And Foreign Minister Bilawal Bhutto For Sco Summit


India Invites PAK CJI and Foreign Minister: पाकिस्तान मौजूदा वक्त में गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है. इस बीच पाकिस्तान के चीफ जस्टिस और विदेश मंत्री भारत के दौरे पर आएंगे. भारत ने पाकिस्तान के चीफ जस्टिस उमर अता बंदियाल (Pakistan CJI Umar Atta Bandial) और विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी (Bilawal Bhutto) को शंघाई सहयोग संगठन (Sco Summit) की बैठकों में शामिल होने के लिए न्यौता दिया है.

शंघाई सहयोग संगठन यानी एससीओ (SCO) के अध्यक्ष के रूप में भारत कई कार्यक्रमों की मेजबानी करने के लिए तैयार है, जिसमें सदस्य राष्ट्रों के चीफ जस्टिस का एक सम्मेलन, विदेश मंत्रियों की बैठक भी शामिल है. 

भारत आएंगे PAK विदेश मंत्री और चीफ जस्टिस

भारत ने पाकिस्तान के चीफ जस्टिस उमर अता बंदियाल और विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी को एससीओ समिट में शामिल होने के लिए नयौता दिया है. इस समिट में रूस और चीन के प्रतिनिधि भी हिस्सा लेंगे. द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया कि भारत मौजूदा वक्त में एससीओ की अध्यक्षता कर रहा है, जिसमें भारत, चीन, रूस, पाकिस्तान, ईरान और मध्य एशियाई देश शामिल हैं. 

news reels

एससीओ अध्यक्ष की भूमिका में भारत

एससीओ के अध्यक्ष के रूप में, नई दिल्ली कई कार्यक्रमों की मेजबानी करने के लिए तैयार है, जिसमें सदस्य देशों के चीफ जस्टिस का एक सम्मेलन, विदेश मंत्रियों की बैठक और 2023 में एक शिखर सम्मेलन शामिल है. एससीओ के मुख्य न्यायाधीशों की बैठक मार्च में होनी है जबकि विदेश मंत्रियों की बैठक मई में होगी.

एससीओ समिट है अहम मंच

हालांकि अभी ये साफ नहीं है कि पाकिस्तान के चीफ जस्टिस और विदेश मंत्री बिलावल भुट्टों दोनों कार्यक्रमों में शामिल होंगे या पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करने के लिए किसी को नियुक्त करेंगे. रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान ने अभी तक भारत की ओर से भेजे गए निमंत्रण का जवाब नहीं दिया है. द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक चीन और रूस की उपस्थिति के कारण एससीओ अहम मंच है. साथ ही पाकिस्तान के इन आयोजनों से बाहर रहने की संभावना नहीं है.

गोवा में होगी Sco के विदेश मंत्रियों बैठक

पाकिस्तान (Pakistan) और भारत (India) दोनों को कुछ साल पहले प्रभावशाली संगठन के पूर्ण सदस्य के रूप में स्वीकार किया गया था, क्योंकि उन्होंने अपने द्विपक्षीय विवादों की वजह से एससीओ के काम को कमजोर नहीं करने का संकल्प लिया था. एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक एससीओ के विदेश मंत्रियों की बैठक गोवा में होने वाली है.

ये भी पढ़ें:

पाकिस्‍तानी पत्रकार की शहबाज को नसीहत: पैसे दे देकर तंग हो गई दुनिया, सऊदी, चीन, अमेरिका सबकी हालत खराब, अब बस मोदी ही सहारा

 

#India #Modi #Govt #Invites #Pakistan #Chief #Justice #Umar #Atta #Bandial #Foreign #Minister #Bilawal #Bhutto #Sco #Summit

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button