बिज़नेस

How To Transfer Shares From One Demat Account To Another Here Is The Step By Step Guide


समय के साथ भारत में भी शेयर बाजार में पैसे लगाने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, जिसकी गवाही रिकॉर्ड संख्या में खुल रहे डीमैट अकाउंट देते हैं. कोरोना महामारी के बाद से लोगों ने कमाई का नया जरिया बनाने के लिए शेयर बाजार की ओर रुख किया है. यही कारण है कि उसके बाद देश में डीमैट अकाउंट खोलने में रफ्तार आई है.

11 करोड़ से ज्यादा हुए डीमैट अकाउंट

देश में डीमैट अकाउंट की संख्या इस साल जनवरी में ही 11 करोड़ के पार निकल गई थी. हालांकि इसमें एक बड़ी वजह है कि कई बार लोग एक से ज्यादा डीमैट अकाउंट खुलवा लेते हैं. कई बार लोग ऐसा जानकारी के अभाव में करते हैं तो कई बार अपनी ट्रेड की जरूरतों के हिसाब से. अभी के समय में बाजार में कई डिस्काउंट ब्रोकर आ गए हैं, जो तरह-तरह की सुविधाएं और ऑफर देते हैं.

इन मामलों में पड़ सकती है जरूरत

मान लेते हैं कि आपका एक ट्रेडिंग अकाउंट किसी अन्य ब्रोकर के साथ है. उसके बाद आपको किसी दूसरे ब्रोकर से बेहतर डील मिल गई. यह डील बेहतर सुविधाओं की हो सकती है, आसान यूजर इंटरफेस को लेकर हो सकती है या क्या कम कमीशन-फीस के बारे में हो सकती है. ऐसे में आपको पुराने अकाउंट से अपने शेयरों को नए अकाउंट में ट्रांसफर करना होगा.

ऑनलाइन भी कर सकते हैं काम

आइए आज जानते हैं कि एक डीमैट अकाउंट से दूसरे डीमैट अकाउंट में शेयरों को किस तरह से ट्रांसफर कर सकते हैं? सबसे पहले तो आपको ये बता दें कि एक डीमैट अकाउंट से दूसरे में शेयरों को ट्रांसफर करना आसान काम है. आप यह काम ऑनलाइन भी कर सकते हैं और ऑफलाइन भी.

एक डीमैट अकाउंट से दूसरे में शेयरों को ऑनलाइन ट्रांसफर करने का प्रोसेस ये रहा…

अपने मौजूदा ब्रोकर से डीआईएस यानी डिलीवरी इंस्ट्रक्शन स्लिप मांगें.
डीआईएस को भरने के बाद उसे मौजूदा ब्रोकर के पास जमा कर दें.
ब्रोकर भरे हुए फॉर्म को डिपॉजिटरी के पास भेज देगा.
डिपॉजिटरी आपके शेयरों को नए अकाउंट में ट्रांसफर कर देगा.
डिपॉजिटरी से ट्रांसफर होते ही आपके नए अकाउंट में शेयर दिखने लगेंगे.

पुराने अकाउंट का क्या करें?

अगर आप पुराने अकाउंट से न अकाउंट में अपने सारे शेयर ट्रांसफर कर रहे हैं और आगे आपको पुराने अकाउंट का इस्तेमाल नहीं करना है तो ऐसे में बेहतर है कि आप पुराने डीमैट अकाउंट को बंद कर दें. अगर आप पुराना अकाउंट बंद नहीं कराते हैं तो उसपर मेंटनेंस चार्ज बनता रहेगा, जिससे आपका नुकसान होगा. यहां आपको यह एक जरूरी बात बता दें कि आप शेयरों को तो ऑनलाइन ट्रांसफर करा सकते हैं, लेकिन डीमैट अकाउंट को फिलहाल ऑनलाइन बंद कराना संभव नहीं है.

ये भी पढ़ें: अब सरकार का खजाना भरेगी ऑनलाइन गेमिंग, नए कानून के बाद आएंगे 45-50 हजार करोड़

#Transfer #Shares #Demat #Account #Step #Step #Guide

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button