दुनिया

China Taiwan map of sea areas spy ship Zhu Hai Yun India United States Maldives


China Latest News: चीन पड़ोसी देशों को लेकर अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. हाल ही में उसने फिर से एक ऐसा कदम उठाया है जिससे युद्ध का संकट मंडराता हुआ नजर आ रहा है. सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज की रिसर्चर्स के मुताबिक चीन के एक जासूसी जहाज ने हाल ही में ताइवान के समुद्री इलाकों का नक्शा बनाया है. जिसके बाद विश्व पटल पर एक बार फिर से चीन को लेकर राजनीतिक हलचल तेज हो गई है.

सीएसआईएस के मुताबिक चीन के अत्याधुनिक मॉनिटरिंग और सर्विलांस यंत्रों से लैस जहाज का नाम झू हाई युन है. युन ने हाल ही में ताइवान के चारो तरफ चक्कर लगाते हुए उनके समुद्री इलाके का नक्शा बनाया है. चीन की हरकत को देख समुद्री इलाकों के विशेषज्ञों का मानना है कि उसके मंसूबे सही नहीं लग रहे हैं. एक्सपर्ट का मानना है कि चीन के इस कदम के पीछे की मुख्य वजह ताइवान के समुद्री पर्यावरण का जायजा लेना था. 

समुद्री मामलों के विशेषज्ञों का मानना है कि एशिया में जब लोगों की नजर भारत, मालदीव और चीन के रिश्तों पर टिकी हुई थी तब झू हाई युन ने इस कार्य को अंजाम दिया. अब जब चीन ने ताइवान के समुद्री इलाकों का नक्शा तैयार कर लिया है तो ऐसी आशंका जताई जा रही है कि दोनों देशों के बीच जल्द ही एक छोटा सा युद्ध हो सकता है. इसकी साफ वजह है कि चीन लगातार अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक झू हाई युन लगातार ताइवान के चारो तरफ चक्कर लगा रहा है और मौसम संबंधी जानकारी इकठ्ठा कर रहा है. चीन और ताइवान के रिश्ते पिछले काफी समय से अच्छे नहीं चल रहे हैं. 

हाल ही में चीनी वायुसेना ने ताइवान के वायु क्षेत्र में दस्तक दी थी. जिसकी ताइवान सरकार ने कड़े शब्दों में निंदा की थी. इस दौरान उसे अमेरिका और भारत का भी साथ मिला था. चीन हमेशा से ही ताइवान को अपना क्षेत्र बताता है, जबकि ताइवान अपने आपको एक स्वतंत्र राष्ट्र घोषित करता है. दोनों देशों के बीच युद्ध की प्रमुख वजह यही है.

यह भी पढ़ें- अमेरिका और रूस की लड़ाई अंतरिक्ष में पहुंची, आज टकरा सकते हैं दोनों देश के सेटेलाइट

#China #Taiwan #map #sea #areas #spy #ship #Zhu #Hai #Yun #India #United #States #Maldives

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button