दुनिया

China America Balloon Spy Balloon Pentagon China Apology For Drone Flying In American Airspace

[ad_1]

China America Balloon: अमेरिकी हवाई क्षेत्र में चीनी गुब्बारे को लेकर अमेरिका और चीन आमने-सामने आ गए. सभी के सामने अकड़ दिखाने वाला ड्रैगन इस मामले में अमेरिका के सामने झुक गया. अमेरिकी हवाई क्षेत्र में ‘स्पाई बैलून’ दिखाई देने के बाद चीन ने इस घटना पर माफी मांगी है. चाइना डेली की खबर के मुताबिक, चीनी विदेश मंत्रालय ने इस घटना पर एक बयान जारी करके खेद जताया है.  

रास्ते से भटक गया बैलून – चीन 

चीनी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, “चीन से नागरिक बैलून मुख्य रूप से मौसम संबंधी अनुसंधान के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जो हवा के झोकों के कारण अपने तय रास्ते से भटक गया था.” प्रवक्ता ने आगे कहा, चीनी पक्ष अमेरिकी पक्ष के साथ में बातचीत जारी रखेगा और अप्रत्याशित स्थिति को ठीक से संभालेगा. एसोसिएटेड प्रेस ने पहले ही अमेरिका के अधिकारियों के हवाले से कहा था कि अमेरिका एक संदिग्ध चीनी निगरानी गुब्बारे पर नजर रख रहा है. इसे अमेरिका के हवाई क्षेत्र में देखा गया है. 

पेंटागन दी थी जानकारी

दरअसल, शुक्रवार (3 फरवरी) शाम को पेंटागन (Pentagon) की ओर से इस संबंध में बयान जारी कर जानकारी दी गई थी. पेंटागन का कहना है कि एक और चीनी जासूसी गुब्बारा (Spy Balloon) लैटिन अमेरिका के ऊपर उड़ रहा है. हम मानते हैं कि ये चीन का दूसरा जासूसी गुब्बारा हो सकता है.

चीन ने पहले भी दी सफाई

चीन ने पहले सफाई देते हुए कहा था कि ये सिविल बैलून है और मौसम अनुसंधान कार्य के लिए है. वहीं, पेंटागन ने चीनी सरकार के इस दावे को सिरे से खारिज कर दिया था और साफ तौर से कहा कि इस बैलून का इस्तेमाल जासूसी के लिए किया जा रहा है.

हालांकि, यह स्पष्ट नहीं था कि अमेरिका में गुब्बारा कहां था. एक रक्षा अधिकारी के अनुसार, अमेरिकी उत्तरी कमान नासा के साथ समन्वय कर रही है ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि अगर अमेरिका के ऊपर तैर रहे गुब्बारे को मार गिराया जाए तो मलबे से क्या नुकसान हो सकता है. 

यह भी पढ़ें: कोई ग्राहक नहीं मिला तो ब्राजील ने समंदर में डुबोया अरबों डॉलर का विमानवाहक पोत, फ्रांस ने परमाणु बम बनाने में किया था यूज

#China #America #Balloon #Spy #Balloon #Pentagon #China #Apology #Drone #Flying #American #Airspace

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button