दुनिया

Army Gave Only Two Options To Imran Khan…either He Should Leave Politics Or Face Death Sentence | Imran Khan: इमरान खान को पाकिस्तान आर्मी ने दिए दो ऑप्शन, कहा


Imran Khan: जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं. सूत्रों से जानकारी मिली है, अब पाकिस्तान की सेना (आर्मी) ने इमरान खान को दो विकल्प दिए हैं. सेना ने कहा है कि या तो आप राजनीति छोड़ दो या फिर मौत की सजा के लिए तैयार हो जाओ. ऐसे में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के सामने अब सिर्फ दो विकल्प बचे हैं.

फिलहाल इमरान खान पाकिस्तान के अटक जेल में बंद हैं. उन्हें तोशाखाना मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद तीन साल की सजा सुनाई गई है, साथ ही उनपर पांच साल तक के लिए चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगाया गया है. जेल में बंद इमरान खान की सुरक्षा को लेकर उनकी तीसरी पत्नी पत्नी बुशरा बीबी पहले ही अपने चिंता जता चुकी हैं. उन्होंने कहा है कि उनके पति को जेल में दिए जाने वाले खाने में जहर दिया जा सकता है. 

गौरतलब है कि इमरान खान सेना के दम पर ही राजनीति में आए थे. क्रिकेट से राजनीति तक का सफर उन्होंने सेना के दम पर किया. लेकिन अब सेना ही उनका राजनीतिक करियर समाप्त करने पर तूल गई गई. दरअसल, इससे पहले नौ मई को इमरान की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थकों ने पूरे पाकिस्तान में जमकर उत्पात मचाया था. इस दौरान सेना के कई ठिकानों पर भी हमले हुए थे. ऐसे में पाकिस्तानी फौज के प्रमुख आसिम मुनीर ने कहा था कि नौ मई को देश में जो हिंसा की गई थी, उन्हें दोबारा नहीं होने दिया जाएगा. पाकिस्तान में सेना को बेइज्जत करने वालों को सजा दी जाएगी.

इससे पहले भी इमरान खान ने पाकिस्तान की सेना पर कई सवाल खड़े किये हैं.उन्होंने खुलेआम सेना पर उंगलियां उठाई हैं. पीटीआई प्रमुख जनरल फैजल नसीर पर गंभीर आरोप लगा चुके हैं. ऐसे में अब इमरान खान का सियासी करियर खतरे में है. 

ये भी पढ़ें: Pakistan Politics: इमरान जेल में बंद, फिर क्यों चुन-चुन कर गिरफ्तार किए जा रहे उनके साथी, क्या है सरकार का मकसद?

 

#Army #Gave #Options #Imran #Khan…either #Leave #Politics #Face #Death #Sentence #Imran #Khan #इमरन #खन #क #पकसतन #आरम #न #दए #द #ऑपशन #कह

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button