भारत

Amarnath Yatra 2023 Preparations For Last Journey Of Chhadi Mubarak Governor Manoj Sinha Participated Ann


Amarnath Yatra News: जैसे-जैसे अमरनाथ यात्रा 2023 अपनी समाप्ति के करीब है, पवित्र गुफा तक छड़ी मुबारक की अंतिम यात्रा की तैयारी शुरू हो गई है. जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने गुरुवार (24 अगस्त) को श्रीनगर में महादेव गिर दशनामी अखाड़ा में छड़ी मुबारक की पूजा की. दशनामी अखाड़े के महंत दीपेंद्र गिरि ने पूजा आयोजित की जिसमें कई वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी शामिल हुए. 

श्रावण शुक्ल अष्टमी के शुभ अवसर पर छड़ी-पूजन श्री अमरनाथजी तीर्थस्थल की वार्षिक तीर्थयात्रा के समापन से पहले एक महत्वपूर्ण अनुष्ठान है. उपराज्यपाल ने भगवान शिव का आशीर्वाद लिया और सभी की शांति, समृद्धि, खुशी और कल्याण के लिए प्रार्थना की. 

छड़ी मुबारक की अंतिम यात्रा में क्या कुछ होगा

छड़ी मुबारक यात्रा की पारंपरिक प्रथा का पालन करते हुए पवित्र गदा को 26 अगस्त को श्री अमरनाथजी गुफा में ले जाया जाएगा और इस महीने की 31 तारीख को रक्षा बंधन की पूर्व संध्या पर पवित्र गुफा में पहुंच जाएगी. छड़ी-मुबारक का पहला रात्रि विश्राम पहलगाम में होगा, लेकिन पहलगाम के रास्ते में, सुरेश्वर मंदिर श्रीनगर, शिव मंदिर पंपोर, शिव मंदिर बिजबेहरा, मार्तंड तीर्थ मट्टन और गणेश मंदिर, लिद्दर नदी के पार गणेशबल में भी पूजन किया जाएगा. 

छड़ी मुबारक की यात्रा इन जगहों पर करेगी विश्राम 

इसके बाद छड़ी मुबारक 28 अगस्त को चंदनवारी, 29 अगस्त को शेषनाग और 30 अगस्त को पंचतरणी में रात्रि विश्राम करेगी. गुरुवार, 31 अगस्त को श्रावण-पूर्णिमा के अवसर पर, छड़ी-मुबारक सूर्योदय से पहले अमरनाथ जी के पवित्र तीर्थस्थल पर पहुंचेगी और उगते सूर्य के साथ पूजन शुरू होगा. 

1989 तक, छड़ी-मुबारक स्वामी अमरनाथ जी इस पूजन के तुरंत बाद मुख्य तीर्थयात्रा के लिए प्रस्थान करते थे और साधु दशनामी अखाड़ा श्रीनगर से अमरनाथ जी के पवित्र तीर्थस्थल तक लगभग 148 किलोमीटर की पूरी यात्रा पैदल ही तय करते थे.

ये भी पढ़ें: 

सामूहिक दुष्कर्म मामले में अंडमान निकोबार के पूर्व मुख्य सचिव को सुप्रीम कोर्ट से राहत, बरकरार रहेगी जमानत

#Amarnath #Yatra #Preparations #Journey #Chhadi #Mubarak #Governor #Manoj #Sinha #Participated #Ann

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button