मनोरंजन

यामी गौतम ने बताया फिल्म को सही तरीके से देखने की कला, बिना किसी विचारधारा के ही समझ आती है कहानी


मुंबई. एक्‍ट्रेस यामी गौतम धर का मानना है कि सिनेमा हॉल वह जगह है, जहां दिमाग को किसी भी बोझ या विचारधारा से पूरी तरह मुक्त होना चाहिए. आगामी फिल्म ‘आर्टिकल 370’ की रिलीज का इंतजार कर रही एक्‍ट्रेस ने कहा कि कलाकारों और दर्शकों के लिए यह जरूरी है कि वे फिल्मों को साफ-सुथरी नजर से देखें और किसी भी पुरानी धारणा से प्रभावित न हों. पिछले कुछ महीनों में दर्शकों की ओर से ‘एनिमल’ और ‘डंकी’ जैसी फिल्मों पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं देखी गई हैं.

देश के अहम मुद्दे को संबोधित करती है फिल्म

यह बात आगामी फिल्‍म ‘आर्टिकल 370’ के साथ भी है. फिल्म की कहानी एक ऐसे विषय को छूती है, जिसने देश को राय के मामले में विभाजित कर दिया है. यामी ने अपनी फिल्म की रिलीज से पहले आईएएनएस से बात की और सिनेमा में अपनी यात्रा और आधुनिक विमर्श में सोशल मीडिया की भूमिका के बारे में बताया. दर्शकों की प्रतिक्रियाओं के बारे में बात करते हुए यामी ने बताया कि उन्‍होंने अब तक रणबीर कपूर-स्टारर ‘एनिमल’ नहीं देखी है. उन्‍होंने कहा कि यदि आप पूर्व धारणा के साथ किसी फिल्म में काम कर रहे हैं या फिल्म देख रहे हैं तो आप कभी भी फिल्म का आनंद नहीं ले पाएंगे. आपका निर्णय पहले से ही अस्पष्ट है तो आप इस पर निष्पक्ष राय नहीं दे पाएंगे.

व्यक्ति की पसंद पर निर्भर करती है फिल्म की कहानी

यामी ने आगे कहा कि आपको क्‍या पसंद है, क्‍या पसंद नहीं है, यह आपकी व्यक्तिगत सोच है. आपको इस पर कायम भी रहना चहिए. लेकिन पहले से तय मानसिकता के साथ फिल्म देखना सही तरीका नहीं है. यामी ने आईएएनएस से कहा कि जहां तक ध्रुवीकरण की बात है तो आज हर चीज पर लोगों की अलग-अलग राय है. सोशल मीडिया ने ऐसे में आग में घी डालने का काम किया है, क्योंकि यह बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचने का सबसे आसान तरीका है. उन्होंने कहा कि एक कलाकार के रूप में मेरा काम उत्कृष्टता का पीछा करना है, अच्छी भूमिकाएं निभाने के लिए सम्मोहक कहानियों को सामने लाना है और अच्छे सिनेमा का हिस्सा बनना है, यही वह इरादा है जिसके साथ मैं काम करती हूं. अभिनेत्री ने अपनी आगामी फिल्म के बारे में भी बात की और कहा कि यह फिल्म भारत के संविधान के विवादास्पद ‘अनुच्छेद 370’ को निरस्त करने के पीछे की कहानी को बताती है.

यामी ने कहा कि आर्टिकल 370′ सिर्फ एक आर्मी ऑपरेशन के बारे में नहीं है, फिल्म बताती है कि कैसे ‘आर्टिकल 370’ को हटाने की ऐतिहासिक घटना को अंजाम दिया गया था. कन्नड़ फिल्म ‘उल्लासा उत्साहा’ से फिल्मों में अपना सफर शुरू करने वाली अभिनेत्री ने सिनेमा में लगभग डेढ़ दशक पूरा कर लिया है. यामी ने कहा कि मैं वास्तव में अपनी सिनेमाई यात्रा पर पीछे मुड़कर नहीं देखती. मैं यह भी नहीं सोचती कि मैं इतने लंबे समय से काम कर रही हूं। मैं कम उम्र में इंडस्ट्री में शामिल हो गया थी, आज मैं जहां हूं, बहुत खुश हूं. मैं अपनी सफल फिल्मों का श्रेय उन फिल्मों को देती हूं, जिन्हें दर्शकों से प्यार नहीं मिला है. ज्योति देशपांडे, आदित्य धर और लोकेश धर द्वारा निर्मित, ‘आर्टिकल 370’ फिल्‍म 23 फरवरी को दुनिया भर के सिनेमाघरों में रिलीज होगी.

Tags: Yami gautam

#यम #गतम #न #बतय #फलम #क #सह #तरक #स #दखन #क #कल #बन #कस #वचरधर #क #ह #समझ #आत #ह #कहन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button