दुनिया

इमरान के घर की घेराबंदी पर बोली उनकी बहन- ‘गोली चलाई तो महिलाएं सबसे पहले जान कुर्बान करेंगी..’


Imran Khan Pakistan News: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के चीफ इमरान खान (Imran Khan) के घर को पुलिस-फोर्स ने घेर लिया है. इमरान पर आरोप है कि उन्होंने लाहौर के जमान पार्क इलाके में स्थित अपने घर में 30-40 आतंकवादियों को शरण दे रखी है. इसलिए बुधवार, 17 मई की दोपहर को वहां की सरकार ने इमरान को चेतावनी दी कि यदि 24 घंटे में उन आतंकवादियों को नहीं सौंपा तो कड़ा एक्शन लिया जाएगा.

सरकार के इस रवैये पर इमरान और उनका परिवार खौफजदा है. वहीं, इमरान खान की बहन अलीमा खानम का बयान आया है. अलीमा खानम ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की अंतरिम सरकार और पाकिस्तानी सेना को चेतावनी दी है कि अगर हमारे घर गोलियां चलाईं तो महिलाएं सबसे पहले अपनी जान कुर्बान करेंगी. अलीमा खानम ने घर के बाहर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा- “जिन लोगों ने PTI समर्थकों को बेरहमी से पीटा, असली आतंकवादी तो वो थे. मगर, पुलिस ने उलटे हमारे घर की घेराबंदी की है.”

खान बोले- यह मेरे कत्ल की साजिश
पुलिस की घेराबंदी पर इमरान का भी बयान आया है. इमरान ने अपने समर्थकों को पुकारते हुए कहा- पहले तो इन्होंने (सरकार और सेना) हमारे हजारों कार्यकर्ताओं को जेलों में डाला. उनमें से कइयों को सरेराहम मार डाला गया. अब गिरफ्तारी के बहाने मेरे कत्ल की साजिश रची जा रही है. मेरे घर को घेर लिया गया है. अगर हमें कुछ होता है तो फौज जिम्मेदार होगी. इमरान ने यहां तक कहा, ‘हो सकता है यह मेरा आखिरी ट्वीट हो…’

सरकार ने दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम
दूसरी ओर, पंजाब प्रांत की अंतरिम सरकार के सूचना मंत्री आमिर मीर (कार्यवाहक) ने इमरान और उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI)  के नेताओं को सख्त लहजे में चेतावनी दी है. मंत्री आमिर मीर ने कल कहा, “सरकार को पता चला है कि इमरान खान के लाहौर स्थित जमान पार्क आवास में 30-40 आतंकवादियों ने पनाह ली हुई है. इन्हें पुलिस को सौंप दिया जाए. 24 घंटे का वक्त है आपके पास.”

यह भी पढ़ें: क्या इमरान खान को दी जा सकती है फांसी? PAK के इन पूर्व पीएम को दी गई ये सजा, जानिए कानून

#इमरन #क #घर #क #घरबद #पर #बल #उनक #बहन #गल #चलई #त #महलए #सबस #पहल #जन #करबन #करग.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button