मनोरंजन

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के घर गए थे ऋषि कपूर, ‘खुल्लम खुल्ला’ बताई Don से मिलने की वजह


नई दिल्ली: ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) कभी किसी शो के लिए दुबई पहुंचे थे, उनके साथ आरडी बर्मन और आशा भोसले थीं. एयरपोर्ट पर एक्टर को किसी ने फोन थमा दिया और कहा कि भाई आपसे बात करेंगे. ऋषि कपूर ने सोचा कि कोई फैन होगा और फोन उठा लिया. उन्हें पता चला कि यह तो अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कॉल है जो उनसे मिलना चाहते हैं. यह किस्सा मार्च 1988 का है.

1993 मुंबई बम ब्लास्ट से पहले का समय था, दाऊद पर आपराधिक मामले दर्ज थे. एक्टर ने इंडिया टीवी को दिए एक इंटरव्यू में बताया था, ‘डॉन ने कहा कि मैं तुमसे मिलना चाहता हूं, चाय पर मुलाकात कर सकोगे? मैंने कहा- होटल में जाकर चैकइन करता हूं, फिर बताता हूं.’ दाऊद एक खतरनाक गैंगस्टर था, फिर भी ऋषि कपूर की उनसे मिलने की खास वजह थी. एक्टर ने कहा था, ‘हम एक्टर के तौर पर लोगों से सीख तो लेते हैं. मैंने नहीं समझा कि इसमें कोई गलत बात है.’ ऋषि कपूर डॉन ने मिले, उसने उनकी काफी खातिरदारी की.

दिलचस्प है कि डॉन मिलना भी चाहता था, डर भी रहा था. दरअसल, वह नहीं चाहता था कि किसी को उनके घर का पता चले, इसलिए ऋषि कपूर जब डॉन ने मिलने पहुंचे, तो पहले उन्हें दुबई की सड़कों पर काफी घुमाया और फोन आने पर उन्हें डॉन से मिलाने ले गए. ऋषि कपूर को इससे लगा कि शायद वह नहीं चाहता कि हमें उसके घर का रास्ता मालूम पड़े. दाऊद ने बकायदा उनके लिए रॉल्स रॉयस गाड़ी भेजी थी.

ऋषि कपूर के काम से काफी खुश था दाऊद इब्राहिम
दाऊद मिले तो उनकी काफी खातिरदारी की और असली बात कही. उन्होंने ऋषि की फिल्म ‘तवायफ’ का जिक्र किया, जो महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर बनी थी, जिसमें एक्टर ने दाऊद नाम का ऐसा किरदार निभाया था, जो रति अग्निहोत्री के किरदार को तवायफ बनने से रोकता है और उसे वापस आम जिंदगी में ले आता है. ऋषि ने कहा था, ‘वह इस बात से बहुत खुश हुआ था कि फिल्म में उनका नाम सही तरीके से रोशन हुआ.’ कहते हैं कि इसी वजह से दाऊद, ऋषि कपूर को पसंद भी करता था.

दाऊद इब्राहिम के साथ 4 घंटे तक चली मुलाकात
ऋषि कपूर ने करीब 4 घंटे तक दाऊद के साथ बातचीत की. उन्होंने डॉन को वापस मुंबई आने के लिए कहा और खुद को पुलिस और रॉ के हवाले करने की सलाह दी. इस पर डॉन बोले कि मुझे न्याय नहीं मिलेगा. मैं कई लोगों के खिलाफ हो चुका हूं. पहले, तो वे मुझे मारना चाहेंगे, इसलिए मैं नहीं आ पाऊंगा. डॉन ने ऋषि के सामने अपना जुर्म कबूल किया और कहा कि मैंने किसी को खुद से नहीं मारा, मैंने मरवाया था, क्योंकि उस आदमी ने गलत किया था. उसने अल्लाह के नाम पर गलत बातें कही थीं, तो मैंने सोचा कि उसको सजा मिलनी चाहिए.’

फिल्म ‘डी-डे’ में निभाया था दाऊद इब्राहिम का रोल
राज कपूर के बेटे ऋषि कपूर ने फिल्म ‘डी-डे’ (D-Day) में दाऊद का किरदार निभाया था. उन्होंने अपने इस रोल को लेकर कहा, ‘अगर मैं उनसे नहीं मिलता तो रोल में वैसी हरकतें नहीं कर पाता.’ वे सिर्फ दाऊद को समझने के लिए उनसे मिलना चाहते थे. ऋषि कपूर ने कभी उनसे कोई तोहफा नहीं लिया, न ही किसी और तरह की डिमांड की. ऋषि ने कहा था कि वह उस वक्त तक एक क्रिमिनल था, लेकिन जब वह मेरे देश के खिलाफ हुआ, तो चीजें गलत हुईं और मुझे इस बात का बहुत दुख हुआ. एक्टर ने अपनी आत्मकथा ‘खुल्लम खुल्ला’ में दाऊद से मुलाकात के बारे में बताया है. मुंबई में जन्में ऋषि कपूर का 30 अप्रैल 2020 को 67 साल की उम्र में कैंसर के चलते निधन हो गया था. खबरों की मानें, तो 67 साल का दाऊद इब्राहिम अभी भी जिंदा है और पाकिस्तान के कराची में छिपकर रहता है.

Tags: Dawood ibrahim, Khullam Khulla: Rishi Kapoor Dil Se, Rishi kapoor

#अडरवरलड #डन #दऊद #इबरहम #क #घर #गए #थ #ऋष #कपर #खललम #खलल #बतई #Don #स #मलन #क #वजह

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button